Khamoshi Shayari


<p>ख़ामोश

ख़ामोश शहर की चीखती रातें,
सब चुप हैं पर, कहने को है हजार बातें.

Khamosh Seher ki Chikhati raate,
Sab Chup hai par,
Kehne ko hai Hajaar Baatein !
 

<p>खामोश

खामोशीयाँ यूं ही बेवजह नहीं होतीं,कुछ दर्द भी आवाज़ छीन लिया करतें हैं। 
Khamoshiyan Yun Hi Bebajah Nahi Hoti,Kuch Dard Bhi Abaj Chheen Liya Karte Hain.

<p>खामोश

खामोशियाँ अक्सर कलम से बयां 
नहीं होती, अंधेरा दिल में हो तो 
रौशनी से आशना नहीं होती,लाख 
जिरह कर लो अल्फाजों में खुद 
को ढूंढने की, जले हुए रिश्तों से 
मगर रौशन शमा नहीं होती !

<p>Jab Koi Khayal Di

Jab Koi Khayal Dil Se Takrata Hai,
Dil Na Chahkar Bhi Khamosh Rah Jata Hai,
Koi Sab Kuchh Kahkar Pyar Jatata Hai,
Koi Kuchh Na Kahkar Bhi Sab Bol Jata Hai.

जब कोई ख्याल दिल से टकराता है,
दिल न चाह कर भी खामोश रह जाता है,
कोई सब कुछ कह कर प्यार जताता है,
कोई कुछ न कहकर भी सब बोल जाता है।

<p>Meri Khamoshi Se

Meri Khamoshi Se Kisi Ko Koi Fark Nahin Padta,
Aur Shikayat Me Do Lafj Kah Du To Wo Chubh Jate Hain.

मेरी खामोशी से किसी को कोई फर्क नही पड़ता,
और शिकायत में दो लफ़्ज कह दूं तो वो चुभ जाते हैं।

<p>Tadap Rahe Hai Ha

Tadap Rahe Hai Ham Tumse Ek Alfaaz Ke Liye,
Tod Do Khamoshi Hame Zinda Rakhne Ke Liye.

तड़प रहे है हम तुमसे एक अल्फाज के लिए,
तोड़ दो खामोशी हमें जिन्दा रखने के लिए।

<p>खामोश

खामोशी समझदारी भी है और मजबूरी भी...

कहीं नज़दीकियां बढ़ाती है और कहीं दूरी भी...!!


Khamoshi Samajdaari bhi hai aur Majboori bhi ...

Kahi Najdikiya Badhati hai aur Kahi Duri Bhi ...!!

<p>तू बार

तू बारिश की तरह अपनी खामोशी बरसा....हम भी सुखी मिट्टी की तरह महकते जाएंगे....! 

Tu Barish ki tarah apni Khamoshi Barsa...Hum Bhee Sukhi Mitti ki Tarah Mehakte Jayoge...

<p>खामोश

खामोशी की भी अपनी एक अलग 
ही अहमियत होती है तितलियाँ अपनी 
खूबसूरती का बखान नहीं किया करतीं..

Khamoshi ki bhi apni ek aalag 
hi ahmiyat hoti hai titliyan apni 
khubsurti ka bakhan nahi kiya 
karti..

<p>जब खाम

जब खामोश आँखो से बात होती है,
ऐसे ही मोहब्बत की शुरुआत होती है,
तुम्हारे ही ख़यालो में खोए रहते हैं,पता 
नही कब दिन और कब रात होती है

Jab khamosh Aankho se baat Hoti hai
ese hi mohabbat ki shuruaat Hoti hai
tumhare hi khayalon mein khoye rhte
Hain, pata nahi kab din aur kab raat 
hoti hai..

<p>Teri Dard-E-Judai

Teri Dard-E-Judai Kyu Satati Hain Mujhe,
Teri Ye Khamoshi Kyu Tadpati Hain Mujhe,
Jab Chale Gaye Ho Tum Chhod Mujhe Humsafar,
To Fir Teri Yaade Kyu Rulati Hain Mujhe...
तेरी दर्द-इ-जुदाई क्यों सताती हैं मुझे

तेरी ये ख़ामोशी क्यों तड़पती हैं मुझे

जब चले गए हो तुम छोड़ मुझे हमसफ़र

तो  फिर तेरी यादे क्यों रुलाती हैं मुझे... 

<p>Chalo Ab Jane Bhi

Chalo Ab Jane Bhi Do Yaar Kya Karoge Dastaan Sunkar,
Khamoshi Tum Samjhoge Nahi Aur Bayan Humse Hoga Nahi....

चलो अब जाने भी दो यार क्या करोगे दास्तान सुनकर

ख़ामोशी तुम समझोगे नहीं और बयां हमसे होगा नहीं.... 


Best Hindi Shayari, Latest Romantic Love Shayari Status, New Sad Shayari, Hindi Funny SMS, Shayari in Hindi

© 2021 All Rights Reserved. Shayarihub.me